True Line

सिर्फ दो तरह के लोग ज़िन्दगी में खुश रहते हैं ”
“एक वो जिन्हें सच्ची मोहब्बत मिल जाये,
और
“दूसरे वो जिन्हें कभी किसी से मोहब्बत ही न हो”

 

ज्यादा लगाव ना रख मुझसे
मेरे दुश्मन कहते हे मेरी उम्र छोटी हे ;
डर मुझे अपनी मौत का नही
तेरे अकेले पन का हे ……..!!!

 

काश” ये बात लोग समझ जाये की..
रिश्ते एक दूसरे का ‘ख्याल’
रखने के लिऎ बनाये जाते हे।
एक दूसरे का ‘इस्तेमाल’ करने के लिए नहीं…!!

 

उन लोगों का क्या हुआ होगा,
जिनको मेरी तरह गम ने मारा होगा,
किनारे पर खड़े लोग क्या जाने,
डूबने वाले ने किस किस को पुकारा होगा।।

 

हज़ारों मिठाइयाँ चखी हैं मैंने…

लेकिन ख़ुशी के आंसू से मीठा कुछ भी नहीं.

 

जब कोई दिल दुखाये तो बेहतर है चुप रहना
चाहिये…
.
क्योंकि…
.
जिंन्हें हम जवाब नहीं देते.. उन्हें वक़्त जवाब
देता हैं…

 

Unn logo ki umeedon ko kabhi
Tutne na dena,,
Jinki aakhri umeed sirf
ap hi hai …..

 

अमीर के घर पे बैठा ‘कौवा’ भी
सबको ‘मोर’ लगता है .. और
गरीब का बच्चा जब भूखा हो तो
सबको वो ‘चोर’ लगता है