Gusse Wali Shayari in Hindi

 Gusse Wali Shayari in Hindi

बहुत गुस्सा होता है कभी कभी तुम पर,
गुस्सा निकालना भी दिल चाहता है,
लेकिन जब आपकी आवाज सुन लेता हूँ,
तो गुस्से की जगह प्यार आ जाता है।

 

जिन्हें गुस्सा आता है वो लोग सच्चे होते हैं,
मैंने झूठों को अक्सर मुस्कुराते हुए देखा है।

 

क्रोध में भी शब्दों का चुनाव कैसा होना चाहिए,
की कल जब गुस्सा उतरे तो,
खुद की नजरों में शर्मिंदा ना होना पड़े।

 

समझ नहीं आता क्यों खफा हूँ इतनी,
गुस्सा है तुझपे या याद आ रही है।

 

भले गलती करने पर माँ, गुस्से में मुझे डांट देती है,
लेकिन वही बिना मांगे, सबसे ज्यादा प्यार देती है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.