Hindi Shayari

प्यार मैं उससे इस क़दर करता चला जाऊ ,
वो ज़ख़्म दिए जाये में भरता चला जाऊ ,
उसकी ये जिद है के वो मुझे मार ही डाले ,
और मेरी ये जिद है के मैं उस पे मरता चला जाऊ !!

 

 

प्यार करके कोई जताए ये जरूरी तो नही ..
याद करके कोई बताये ये जरूरी तो नही ….
रोने वाला तो दिल में ही रो लेता है….

 

Latest Hindi Shayari

Tu mil k b naa mila,
Tujhey paa k b naa paaya,
Main toh adhoori reh gayi,
Tera sayaa jab nazar naa mujhe aaya!

 

Best love shayari in hindi for girlfriend 

Jaam peeney se kya faayda,
Shaam me pee subha utar jaayegi,
Arey peeni hai to do boond mohbbat k pee,
Saari zindagi nashe me hi guzar jaayegi!

 

beautiful hindi love shayari

Kaun hain jo iss dil me samaaye hue hai,
Jinke liye hum apni har khushi bhulaaye hue hai,
Nazar nahi aate hume wo par tadap mahsus hoti hain,
Uss andekhe yaar k liye hum sapne sajaaye hue hai!

 

hindi shayari love dosti

Kaash wo samjhte iss dil ki tadap koo,
Toh hamein yu ruswaa naa kiya jata,
Yein berukhi b unkee manzur thee hamein,
Ek baar bas hamein samajh liya hota!

 

hindi shayari love romantic

Mil gaye hai zamaane waale sabhi ek dusre sey,
Sabi ne milkr mujh akele ko maara hain,
Kahi tu b ho na jaana bewafa sabhi ki tarah,
Aey mere dost is dil koo bass tera hi sahaara hain!

 

hindi shayari love 140 character

Ab to bas jaan hi deney ki baari hain ‘mohsin’,
Main kahan tak saabit karoo k wafa hai mujh mei!

 

Two Line Love Shayari

Itne swaal the mere paas ki meri umar se simat na sake,
Jitne jawaab the tere paas sabhi teri ek nigah me aa gaye!

 

 

मेरी मौत की खबर पर
किसे रोना आता।
और मैं जिंदा भी रहता
तो क्या करता।।

 

 

हमे क्या पता था की जिंदगी

इतनी अनमोल है… दोस्तों …
कफ़न ओड़ कर देखा तो
नफरत करने वाले भी रो रहे थे…!!!

 

 

मौहब्बत की मिसाल में,
बस इतना ही कहूँगा ।
बेमिसाल सज़ा है,
किसी बेगुनाह के लिए ।

Mohabbat Ki Misal Main..
Bus Itna Hi Kahun Ga,
Be-Misaal Saza Hai..
Kisi Be-Gunahon K Liye.

 

Ishq karne chale ho…!!
Toh yeh Jaan lo….!!
Iss mein hastey toh saath hai!!
Magar Rona akele hi padta hai…. !!

 

किस्मत पर नाज़ है तो वजह तेरी रहमत..
खुशियां जो पास है तो वजह तेरी रहमत..
मेरे अपने मेरे साथ है तो वजह तेरी रहमत..
मैं तुझसे मोहब्बत की तलब कैसे न करूँ..
चलती जो ये सांस है तो वजह तेरी रहमत..

 

मौहब्बत की मिसाल में,
बस इतना ही कहूँगा ।
बेमिसाल सज़ा है,
किसी बेगुनाह के लिए ।

Mohabbat Ki Misal Main..
Bus Itna Hi Kahun Ga,
Be-Misaal Saza Hai..
Kisi Be-Gunahon K Liye.

 

इंसानों के कंधे पर इंसान जा रहे हैं,
कफ़न में लिपट कर कुछ अरमान जा रहे हैं,
जिन्हें मिली मोहब्बत में बेवफ़ाई,
वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं।

Insan ke kandhe par insan jaraha hai,
kafan me lipta kar kuch arman ja rahe hai,
jinhe mili ho mohabbat me bewafaai,
wafa ki talash me wo kabristan ja rahe hai.

 

Na Jaane Kaisi Nazar Lagi Hai Zamaane Ki..,
Ab To Koi Vajah Bhi Nahi Milti Muskurane Ki..!

 

मेरे पास दिल कम है,

दिमाग ज्यादा है,

तुम दिल से खेलते रहो,

मैं दिमाग से जीतना जानती हूँ..

 

आँखों से कभी ,देखो दिल में ,

मंज़र वो दिखाई देता है !

तुम हम से मिले थे, पहले भी,

इतिहास गवाही देता है !

 

Mohabbat na hone ke sirf do hi tarike hain
Ya toh dil na bana hota ya wo na bani hoti

 

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए,
तू आज भी बेखबर है कल की तरह..


जब नफ़रत करते करते थक जाओ…।
तो एक मौका प्यार को भी दे देना.।।


खामोशियाँ – बहुत कुछ कहती हैं,,
कान नही दिल लगा कर सुनना पड़ता है…


मैंने उसे बोला ये आसमान कितना बड़ा है ना,
पगली ने गले लगाया और कहा इससे बड़ा तो नहीं….


देखते हैं अब क्या मुकाम आता है साहेब,
सूखे पत्ते को इश्क़ हुआ है बहती हवा से….!!


मैने जो पुछा उनसे कि.. यूँ बात बात पे रूलाते क्युँ हो…
वो बङे प्यार से बोली, मुझे बहता हुआ पानी बेहद पंसद है..


शायरी लिखना बंद कर दूंगा अब मैं यारो…
मेरी शायरी की वजह से दोस्तों की आँखों में आंसू अब देखे नहीं जाते…!!


जाते जाते उसने पलटकर सिर्फ इतना कहा मुझसे,,
मेरी बेवफायी से ही मर जाओगे या मार के जाऊ.!!


ठहर सके जो.. लबों पे हमारे,,
हँसी के सिवा, है मजाल किसकी…


तुम पल भर के लिए दूर क्या जाते हो,
तो हम ‘बिखरने’ से लगते हैं..

 

मोह्ब्बत किसी ऐसे शख्स की तलाश
नही करती जिसके साथ रहा जाये,
मोह्ब्बत तो ऐसे शख्स की तलाश करती हे
जिसके बगेर रहा न जाये !!

 

जो लडकिया प्यार में बेवफा होती है,..
असल में वही अपने माँ बाप की वफादार होती है..!

 

 

किस्मत पर नाज़ है तो वजह तेरी रहमत..
खुशियां जो पास है तो वजह तेरी रहमत..
मेरे अपने मेरे साथ है तो वजह तेरी रहमत..
मैं तुझसे मोहब्बत की तलब कैसे न करूँ..
चलती जो ये सांस है तो वजह तेरी रहमत..

 

आ छोडकर इस जंहा को कही दूर चले,
मोहब्बत से हमारी वंहा कोई ना जले,
में दिल में बसा लू तुझे अपने…
तू छुपा ले मुझको अपनी पलकों तले

 

बड़े शौक से बनाया तुमने मेरे दिल मे अपना घर
जब रहने की बारी आई तो तुमने ठिकाना बदल दिया।


इश्क का धंधा ही बंद कर दिया साहेब।
मुनाफे में जेब जले.. और घाटे में दिल..!


शायद कुछ दिन और लगेंगे, ज़ख़्मे-दिल के भरने में,
जो अक्सर याद आते थे वो कभी-कभी याद आते हैं।


अपने वजूद पर इतना न इतरा ए ज़िन्दगी..
वो तो मौत है जो तुझे मोहलत देती जा रही है!!


कुछ तो बात है तेरी फितरत में ऐ दोस्त,
वरना तुझ को याद करने की खता हम बार-बार न करते!


चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी,
लोगो को सिखा देगें मोहब्बत ऐसे भी होती है।


ग़ैरों को भला समझे और मुझ को बुरा जाना..
समझे भी तो क्या समझे जाना भी तो क्या जाना।


किनारों से मुझे ऐ नाख़ुदा दूर ही रखना..
वहाँ ले कर चलो, तूफ़ान जहां से उठने वाला हैं।


जब किसी से कोई गिला रखना सामने अपने आईना रखना।


आंखों देखी कहने वाले, पहले भी कम-कम ही थे
अब तो सब ही सुनी-सुनाई बातों को दोहराते हैं।

 

ये इश्क भी एक अजीब एहसास होता है…
अल्ज़फों से ज्यादा निगाहोसे बया होता है…
हर पल बस उसके गम और खुशी की फ़िक्र होती है…
इसी एहसास से तो हमको जीने का गुमान होता है…

 

यार ने दिल का हाल बताना छोड़ दिया, हुमने भी गहराई मे जाना छोड़ दिया, आप ने SMS करना क्या बंद कर दिया, हमने मोबाइल चार्ज करना छोड़ दिया.

जाता हूँ तेरे डर से
मुझको तुम भुला देना
हो सके तो ऐसा भी करना
बहुत दिनों तक इल्ज़ाम ना देना

 

तू मेरा सपना, मेरा अरमान है पर..
शायद तू अपनी अहमियत से अंजान है,
मुझसे कभी भी रूठ मत जाना आप,
कूयोकी मेरी दुनिया आप के बिना वेरान है..

 

अपनी सांसों में महकता पाया है तुझे,
हर खवाब मे बुलाया है तुझे,
क्यू न करे याद तुझ को
जब खुदा ने हमारे लिए बनाया है तुझे.

 

 

तेरी मोहब्बत को हम सलाम करते हैं,

दुनिया की भीड़ में हम बात करते हैं,

और क्या कहूँ अब इससे ज्यादा,

अपनी ज़िन्दगी अब तेरे नाम करते हैं..!

 

 

किस्मत दूसरा मौका नहीं देती,

दुनिया अंजाने को पनाह नहीं देती !

जिंदगी से इतना प्यार मत करना,

दोस्त क्योंकि मौत रिश्वत नहीं लेती !!

 

गमों की मुझ पर कुछ ऐसी नजर हो गई,
जब भी हम हँसे ये आँखे नम हो गई,
हम रोऐ भी तो वो जान ना सके..
और वो उदास भी हुऐ तो हमें खबर हो गई.

 

Yaadon ko bhulane mein,
Kuch der toh lagti hain..
Aankhon ko sulane mein,
Kuch der toh lagti hain..

Kisi shakhs ko bhula dena,
Itna aasaan nahi hota..
Dil ko samjhane mein,
Kuch der toh lagti hain..

Bhari mehfil mein jab koi,
Achanak yaad aa jaaye,
Fir aansoo chupane mein,
Kuch der toh lagti hain..

Jo shakhs jaan se pyara ho,
Achanak door ho jaaye,
Dil ko yaqeen dilane main,
Kuch der toh lagti hain…..!!

 

राह संघर्ष की जो चलता है,
वो ही संसार को बदलता है।
जिसने रातों से जंग जीती है,
सूर्य बनकर वही निकलता है’

 

रख ले 2-4 बोतल कफ़न में,
साथ बैठ कर पिया करेंगे,
जब माँगे गा हिसाब गुनाहों का,
एक पेग उससे भी दे दिया करेंगे..

हमें ना ही हुकुम का ईका ना बादशाह की रानी बनना है….

हम तो जोकर ही अच्छे हैं….

जिस की बाझी में आएगें..

बाझी पलट देगें.

 

किस्मत दूसरा मौका नहीं देती,

दुनिया अंजाने को पनाह नहीं देती !

जिंदगी से इतना प्यार मत करना,

दोस्त क्योंकि मौत रिश्वत नहीं लेती !!

 

मुझे खामोश देखकर इतना हैरान क्यूँ होते हो ऐ दोस्तो,
कुछ नहीं हुआ है बस भरोसा करके धोखा खाया है !!

 

थक गया हूँ रोटी के पीछे भाग भाग कर
थक गया हूँ सोती रातों में जाग जाग कर
काश मिल जाये वही बीता हुआ बचपन
जब माँ खिलाती थी भाग भाग कर
और सुलाती थी जाग जाग कर.

 

बस यही दो मसले, ज़िन्दगी भर ना हल हुए,

ना नींद पूरी हुई, ना ख्वाब मुकम्मल हुए, वक़्त ने कहा…..

काश थोड़ा और सब्र होता, सब्र ने कहा….काश थोड़ा और वक़्त होता !

 

महोब्ब्त दिल में कुछ ऐसी होनी चाहिये….
.
की हासिल भले दुसरे को हो
पर कमी उसको ज़िन्दगी भर अपनी होनी चाहिये…!!

 

क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त,
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है,
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त