Love Shayari

खुदा हर नजर से बचाए आपको;
चाँद सितारों से ज्यादा सजाए आपको;
दुःख क्या होता है ये कभी पता न चले;
खुदा जिंदगी में इतना हँसाए आपको।

 

कभी ख़ुशी से खुशी की तरफ़ नहीं देखा
तुम्हारे बाद किसी की तरफ़ नहीं देखा
ये सोचकर कि तेरा इन्तज़ार लाजमी है
तमाम उम्र घड़ी की तरफ़ नहीं देखा

 

 

प्यार मैं उससे इस क़दर करता चला जाऊ ,
वो ज़ख़्म दिए जाये में भरता चला जाऊ ,
उसकी ये जिद है के वो मुझे मार ही डाले ,
और मेरी ये जिद है के मैं उस पे मरता चला जाऊ !!

 

 

तुम दूर..बहुत दूर हो मुझसे.. ये तो जानता हूँ मैं…
पर तुमसे करीब मेरे कोई नही है.. बस ये बात तुम याद रखना…


तुझे पाना.. तुझे खोना.. तेरी ही याद मेँ रोना
ये अगर इश्क है.. तो हम तनहा ही अच्छेँ हैँ.!!


कभी किसी के जज्बातों का मजाक ना बनाना.
ना जाने कौन सा दर्द लेकर कोई जी रहा होगा..


कुछ तो है जो बदल गया जिन्दगी में मेरी
अब आइने में चेहरा मेरा हँसता हुआ नज़र नहीं आता…


उमर बीत गई पर एक जरा सी बात समझ में नहीं आई
हो जाए जिनसे महोब्बत, वो लोग कदर क्यूं नहीं करते


यूँ तो कोई शिकायत नहीं मुझे मेरे आज से,
मगर कभी-कभी बीता हुआ कल बहुत याद आता है…


अपने हर लफ्ज़ में कहर रखते हैं हम,
रहें खामोश फिर भी असर रखते हैं हम..


बडी अजीब मुलाकातें होती थी हमारी,
वो किसी मतलब से मिलते थे और हमे तो सिर्फ मिलने से मतलब था…


अब ये न पूछना की . . ये अल्फ़ाज़ कहाँ से लाता हूँ
कुछ चुराता हूँ दर्द दूसरों के, कुछ अपना हाल सुनाता हूँ


तूफान भी आना जरुरी है जिंदगी में तब जा कर पता चलता है की
कौन हाथ छुड़ा कर भागता है और कौन हाथ पकड़ कर


 

तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो.!
मैं दिल को ढ़ूँढ़ता हुँ दिल तुमको ढ़ूँढ़ता है.!!


Humari ‪shayari‬ padh kar bas itna sa bole wo,
‪kalam‬ cheen lo inse.. ye ‪lafz‬ ‪dil‬ cheer dete hai.


तुम आए थे, पता लगा, सुन कर अच्छा भी लगा,
पर गैरों से पता चला, बेहद बुरा लगा !!


Aaj Koi ‪#‎Shayari‬ Nhi Bas Itna Sun Lo,
Main ‪‎Tanha‬ hun Aur ‪Wajah‬ Tum Ho


Jee Chahe Ki Duniya Ki Har Ek ‪#‎Fikra‬ Bhula Kar..!!
Kuchh ‪shayari‬ Sunau Me Tujhe Pass Bitha Kar..!!


Ab woh armaan hain, na woh sapnay..
Sab qabootar urra gaya koi!


औक़ात नही थी जमाने में जो मेरी कीमत लगा सके,
कबख़्त इश्क में क्या गिरे, मुफ़्त में नीलाम हो गए..


अकसर भुल जाती हूँ मैं तुम्हें शाम की चाय में चीनी की तरह,
फिर जिंदगी का फीकापन तुम्हारी कमी का एहसास दिला देता है !!


मुझसे नफरत ही करनी है तो इरादे मजबूत रखना,
जरा से भी चुके तो महोब्बत हो जायेगी


तेरी जरूरत, तेरा इंतजार और ये तन्हा आलम,
थक कर मुस्कुरा देती हूँ, मैं जब रो नहीं पाती !!


सीने में धङकता जो हिस्सा है,
उसी का तो ये सारा किस्सा है !

 

तेरी मोहब्बत को हम सलाम करते हैं,

दुनिया की भीड़ में हम बात करते हैं,

और क्या कहूँ अब इससे ज्यादा,

अपनी ज़िन्दगी अब तेरे नाम करते हैं..!

 

 

किस्मत दूसरा मौका नहीं देती,

दुनिया अंजाने को पनाह नहीं देती !

जिंदगी से इतना प्यार मत करना,

दोस्त क्योंकि मौत रिश्वत नहीं लेती !!

 

 

विश्वास की एक डोरी है फेसबुक;
विश्वास के बिना कोरी है फेसबुक;
कभी थैंक्स तो कभी सॉरी है फेसबुक;
ना मानो तो कुछ भी नहीं;
पर मानो तो सब की भी कमजोरी है फेसबुक…….॥

 

तुम दूर..बहुत दूर हो मुझसे.. ये तो जानता हूँ मैं…
पर तुमसे करीब मेरे कोई नही है.. बस ये बात तुम याद रखना…


तुझे पाना.. तुझे खोना.. तेरी ही याद मेँ रोना
ये अगर इश्क है.. तो हम तनहा ही अच्छेँ हैँ.!!


कभी किसी के जज्बातों का मजाक ना बनाना.
ना जाने कौन सा दर्द लेकर कोई जी रहा होगा..


कुछ तो है जो बदल गया जिन्दगी में मेरी
अब आइने में चेहरा मेरा हँसता हुआ नज़र नहीं आता…


उमर बीत गई पर एक जरा सी बात समझ में नहीं आई
हो जाए जिनसे महोब्बत, वो लोग कदर क्यूं नहीं करते


यूँ तो कोई शिकायत नहीं मुझे मेरे आज से,
मगर कभी-कभी बीता हुआ कल बहुत याद आता है…


अपने हर लफ्ज़ में कहर रखते हैं हम,
रहें खामोश फिर भी असर रखते हैं हम..


बडी अजीब मुलाकातें होती थी हमारी,
वो किसी मतलब से मिलते थे और हमे तो सिर्फ मिलने से मतलब था…


अब ये न पूछना की . . ये अल्फ़ाज़ कहाँ से लाता हूँ
कुछ चुराता हूँ दर्द दूसरों के, कुछ अपना हाल सुनाता हूँ


तूफान भी आना जरुरी है जिंदगी में तब जा कर पता चलता है की
कौन हाथ छुड़ा कर भागता है और कौन हाथ पकड़ कर


 

तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो.!
मैं दिल को ढ़ूँढ़ता हुँ दिल तुमको ढ़ूँढ़ता है.!!


Humari ‪shayari‬ padh kar bas itna sa bole wo,
‪kalam‬ cheen lo inse.. ye ‪lafz‬ ‪dil‬ cheer dete hai.


तुम आए थे, पता लगा, सुन कर अच्छा भी लगा,
पर गैरों से पता चला, बेहद बुरा लगा !!


Aaj Koi ‪#‎Shayari‬ Nhi Bas Itna Sun Lo,
Main ‪‎Tanha‬ hun Aur ‪Wajah‬ Tum Ho


Jee Chahe Ki Duniya Ki Har Ek ‪#‎Fikra‬ Bhula Kar..!!
Kuchh ‪shayari‬ Sunau Me Tujhe Pass Bitha Kar..!!


Ab woh armaan hain, na woh sapnay..
Sab qabootar urra gaya koi!


औक़ात नही थी जमाने में जो मेरी कीमत लगा सके,
कबख़्त इश्क में क्या गिरे, मुफ़्त में नीलाम हो गए..


अकसर भुल जाती हूँ मैं तुम्हें शाम की चाय में चीनी की तरह,
फिर जिंदगी का फीकापन तुम्हारी कमी का एहसास दिला देता है !!


मुझसे नफरत ही करनी है तो इरादे मजबूत रखना,
जरा से भी चुके तो महोब्बत हो जायेगी


तेरी जरूरत, तेरा इंतजार और ये तन्हा आलम,
थक कर मुस्कुरा देती हूँ, मैं जब रो नहीं पाती !!


सीने में धङकता जो हिस्सा है,
उसी का तो ये सारा किस्सा है !

 

कभी ख़ुशी से खुशी की तरफ़ नहीं देखा
तुम्हारे बाद किसी की तरफ़ नहीं देखा
ये सोचकर कि तेरा इन्तज़ार लाजमी है
तमाम उम्र घड़ी की तरफ़ नहीं देखा

 

किसी की यादो को रोक पाना मुश्किल है
रोते हुए दिल को मनाना मुश्किल है
ये दिल अपनो को कितना याद करता है
ये कुछ लफ्जो में बयाँ कर पाना मुश्किल है

 

खामोशी से बिखरना आ गया है,
हमें अब खुद उजड़ना आ गया है,
किसी को बेवफा कहते नहीं हम,
हमें भी अब बदलना आ गया है,
किसी की याद में रोते नहीं हम,
हमें चुपचाप जलना आ गया है,
गुलाबों को तुम अपने पास ही रखो,
हमें कांटों पे चलना आ गया है|

 

मौहब्बत की मिसाल में,
बस इतना ही कहूँगा ।
बेमिसाल सज़ा है,
किसी बेगुनाह के लिए ।

 

Humein aap ki jaan nahi sirf saath chahiye,

Sacche ishq ka sirf ek ehsaas chahiye,

Jaan toh ek pal mein di jaa sakti hain,

Pr hume apki mohabbat aakhri sans tk chahiye.

 

Tere naam se mohabbat ki hain,
Tere ehsaas se mohabbat ki hai,

Tum mere pass nahi phir bhi,
Tumhari yaad se mohabbat ki hai.

Kbhi tumne bhi mujhe yaad kiya hoga
Maine un lamho se mohabbat ki hain,

Tum se milna to ek khwab sa lagta hain,
Mene tumhare intezar se mohabbat ki hai.

 

“खूबसूरत सा एक पल किस्सा बन जाता है
जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा बन जाता है ।
कुछ लोग जिंदगी मे मिलते है ऐसे,
जिससे कभी ना टूटने वाला रिस्ता बन जाता है।।”

 

कदर करलो उनकी जो तुमसे
बिना मतलब की चाहत करते है
.
दुनिया में ख्याल रखने वाले कम
और तकलीफ देने वाले ज्यादा होते है

 

तुम बताओ तो मुझे किस बात की सजा देते हो।
मंदिर में आरती और महफ़िल में शमां कहते हो।
मेरी किस्मत में भी क्या है लोगो जरा देख लो,
तुम या तो मुझे बुझा देते हो या फिर जला देते हो

 

“जरा देखो तो ये दरवाजे पर दस्तक किसने दी है..
अगर ‘इश्क’ हो तो कहना, अब दिल यहाँ नही रहता..

 

Kisi ko toot kar chahne se koi mohabbat nahi hoti…
Use pane ki khwahish rakhne se mohabbat nahi hoti
Mohabbat toh es duniya ki wo azeem cheez hain….
Jo kisi se ek baar ho jaaye toh phir kisi se nahi hoti

 

Kon kahta hai mohbat ki jubaan hoti hai
Honto k bina khule hi hakikat baya hoti h
Ishq woh khudayi hain mere dost……
Jo lafjo se nahi aankho se baya hoti hai

 

Daulat ki bhuk aisi lagi ki kamane nikal gye
Jab daulat mili toh hath se rishte nikal gye
Bachchho ke sath rahne ki fursat na mil saki
Fursat mili to bachche khud kamane nikal gye

 

कीचड़ में पैर फंस जाये तो
नल के पास जाना चाहिए,
मगर नल को देखकर
कीचड़ में नही जाना चाहिए !

इसी प्रकार..

जिन्दगी में बुरा समय आ जाये
तो पैसों का उपयोग करना चाहिए,
मगर पैसों को देखकर
बुरे रास्ते पर नही जाना चाहिए !!

 

जैसे धुऐं के पीछे से सूरज का चमकना,
घने बादलों के पीछे से चाँद का खिलना,
पंखुडियाँ खोलकर कमल का खिलखिलाना,
वैसे घूँघट की आड से तेरा लाजवाब मुस्कुराना

 

Wo pyar jo hakeeqat mein pyar
hota hai…
Zindagi mein sirf EK bar hota
hai..
Nigaahon ke milte milte dil mil
jaayein…
Yeh ittefaaq sirf EK baar hota
hai…

 

Humein aap ki jaan nahi sirf saath chahiye,

Sacche ishq ka sirf ek ehsaas chahiye,

Jaan toh ek pal mein di jaa sakti hain,

Pr hume apki mohabbat aakhri sans tk chahiye.

 

खुदा की रहमत में अर्जियाँ नहीं चलतीं

दिलों के खेल में खुदगर्जियाँ नहीं चलतीं

चल ही पड़े हैं तो ये जान लीजिए हुजुर,

इश्क़ की राह में मनमर्जियाँ नहीं चलतीं !