Tags :Hindi Poems

Hindi Poems

Hindi Poems

आखिर एक ही तो जिंदगी थी वफाएं किस किस से करते अपने आप से, अपने सपनों से अपनी काबिलियत से अपनी सच्चाई से! या  दूसरों की सोच से या फिर   रास्तो पे आने वाली रुकावटो से मैं यादों का पिटारा खोलू तो,  कुछ दोस्त बहुत याद आते है। मैं गांव की गलियों से गुजरू  […]More Shayari