Tags :Subah Ki Khubsurat Shayari

Subah Ki Khubsurat Shayari

Subah Ki Khubsurat Shayari in Hindi

पानी की बूंदे फूलों को भीगा रही हैं, ठंडी हवाएं ताज़गी को जगा रही हैं, हो जाओ तुम भी इसमें शामिल, एक प्यारी सी सुबह तुम्हे जगा रही है। नयी है सुबह नया है सवेरा, इस प्यारे सूरज का वही प्यारा और भोला सा चेहरा Good morning बोल कर खिलाओ, अपने  हर एक सम्बंधियों का […]More Shayari