dard shayari

Dard Shayari

 

 

  • Mohabbat galat nahi hoti,
    Mohabbat mein dhokha dene
    Wale log galat hote hai.

 


  • कहा है तुमसे कितनी ही बार;
    कि ख़्यालों में न आया करो
    जीने की कोशिशें सारी तुम यूँ आकर;
    तबाह कर दिया करते हो !

dard shayari

 


  • “बेवफाई का डर था तो प्यार क्यों किया,
    तनहाई का डर था तो इकरार क्यों किया,
    मुझसे मौत भी पूछेगी आने से पहले,
    कि जो नहीं आने वाले थे,
    तूने उनका इंतजार क्यों किया.”

dard shayari

 


  • आदमी जो सुनता है, आदमी जो कहता है..
    ज़िंदगी भर वो सदाएँ पीछा करती हैं!
    आदमी जो देता है, आदमी जो करता है..
    रास्ते मे वो दुआएँ पीछा करती हैं!

dard shayari


  • Kuch pal humko aakele hi reh lene do,
    Khudki aawaj ko sun lene do,
    Kho gya tha mai is duniya ki bheed me kahi,
    Ab firse mujhko apna ho lene do
  • Kuch hi palo me zindagi ki “Tasveer” ban jaati hain
    Kuch hi palo me zindagi ki “Takdeer” badal jati hai
    Kabhi kisi ko apna bana ke door mat mere dosto,
    Kyuki ek hi judayi se puri zindagi bikhar jaati hain

dard shayari

 

  • उठ-उठ के बैठते हैं रातों का हाल है,
    दिन एक गुजरता है जैसे एक साल है,
    फिर भी न हो यकीन मेरी आँखों से पूछ लो,
    जब से गए हो आज तक गीला रुमाल है ।।
  • इस कदर बात उठे दिल को दिवाना कर दे
    गर्म सी धूप औ रातों को सुहाना कर दें
    हल्के हल्के से शरारो सी वफा भी हो अगर
    साथ में सर्द से झोंकों का ठिकाना कर दे ….!
  • तुझको हुई ना खबर,
    न ज़माना समझ सका
    हम चुपके चुपके तुझ पे
    यूँ कई बार मर गये
  • जाने क्यों, वो मेरी उमीन्द की डोर टूटने नही देता,
  • बस और दो कदम साथ चलने का वास्ता देकर,
    वो मुझे रुकने नही देता……!!
  • बात करता है, वो हंस-हंस कर, खुश रहने की
    वास्ता देकर अपनी खुशी का, वो मुझे रोने नही देता.

dard shayari

 

  • बढाता है होंसला मेरा, की हर पल मेरे साथ है,
    वास्ता देकर अपने साथ का, वो कभी मुझे अकेला होने नही देता
  • कहता है, ज़िन्दगी जीने का नाम है,
    वास्ता देकर ज़िन्दगी का, वो मुझे मरने नही देता !
  • दिल हर किसी के लिए नहीं धड़कता,
    धड़कनों के भी अपने कुछ उसूल होते हैं…!!
  • जीने की ख्वाहिश में हर रोज़ मरते हैं,
    वो आये न आये हम इंतज़ार करते हैं,
    झूठा ही सही मेरे यार का वादा है,
    हम सच मान कर ऐतबार करते हैं ।
dard shayari
  • जीने की ख्वाहिश में हर रोज़ मरते हैं,
    वो आये न आये हम इंतज़ार करते हैं,
    झूठा ही सही मेरे यार का वादा है,
    हम सच मान कर ऐतबार करते हैं ।
  • Jeene Ki Khwaish Me Har Roz Marte Hai,
    Wo Aaye Na Aaye Hum Intezaar Karte Hai,
    Jutha Hi Sahi Mere Yaar Ka Vaada Hai,
    Hum Sach Maankar Aitbar Karte Hai.
  • खामोशी से बिखरना आ गया है,
    हमें अब खुद उजड़ना आ गया है,
    किसी को बेवफा कहते नहीं हम,
    हमें भी अब बदलना आ गया है,
    किसी की याद में रोते नहीं हम,
    हमें चुपचाप जलना आ गया है,
    गुलाबों को तुम अपने पास ही रखो,
    हमें कांटों पे चलना आ गया है|

  • Khamoshi Se Bikharna Aa Gaya Hai,
    Hamian Ab Khud Ujarna Aa Gaya Hai,
    Kisi Ko Bewafa Kehte Nahi Hum,
    Hamian B Ab Badlna Aa Gaya Hai,
    Kisi Ki Yad Main Rote Nahi Hum,
    Hamian Chup Chap Jalna Aa Gaya Hai,
    Gulabun Ko Tm Apne Pass Rakho,
    Hamian Kantun P Chalna Aa Gaya Hai.

 

  • तुम साथ चलते तो मिल जाती मंज़िल हमे ..!!
    बिना तेरे कोई भी रास्ता पहचानता नहीं हमे ..!!!

dard shayari

 

  • Mujhe dard-e-ishq ka mazaa maloom hain,
    Dard-e-dil ki inteha bhi maloom hain,
    Zindagi bhar muskurane ki dua naa dena
    Mujhe pal bhar muskurane ki saza maloom h –

 

  • Dil ke dard ko dil torne wale kya janey,
    Pyar ki rasmo ko yeh zamane wale kya jane
    Hoti hain kitni taklif kabar ke niche,
    Yeh upar se phool charane wale kya jane..!!

dard shayari

 

  • Maut ke aagosh mein sone ko jee karta hain,
    Dil to kho diya ab zindagi khone ko jee krta hai
    Uski yaad aati hain jab bhi mujhe na jane kyon
    Kahin pe tanha baith ke roney ko jee karta hain
  • बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा लगती है,
    यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है ।
  • तड़प उठता हूँ दर्द के मारे,
    ज़ख्मों को जब तेरे शहर की हवा लगती है ।
  • अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ,
    मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है।

 

  • है कोई वकील इस जहान में, जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको.
  • वो मुजे नफ़रत करें या प्यार करें मैं तो एक दीवाना हूँ. .

 

  • दिल मेरा कूछ टूटा हुआ सा है,
    उससे कूछ रुठा हुआ सा है…….
  • मेरा होकर भी गैर की जागीर लगता है,
    दिल भी साला मसला-ऐ-कश्मीर लगता है
  • ख़ामोशी बहुत कुछ कहती हे
    कान लगाकर नहीं ,
    दिल लगाकर सुनो !!

dard shayari

 

 

  • दहेज़ की आग में जली
    बेटी ने बाप से कहा
    “पापा मरने के बाद
    मुझे जलाना मत
    जलने में बहुत
    तकलीफ होती है “
  • ना मेरा दिल बुरा था, ना उसमे कोई बुराई थी,
    सब मुक़द्दर का खेल है, बस किस्मत में जुदाई थी…!
  • वादे उनके और यादें उनकी हैं
    दिन हैं उनके और रातें उनकी हैं।
    इंतजार उनका मुलाकात उनकी है
    खुशियां उनसे और सांसे उनकी हैं।।
  • जीत” किसके लिए ‘हार’ किसके लिए
    ‘ज़िंदगी भर’ ये ‘तकरार’ किसके लिए,
    जो भी ‘आया’ है वो ‘जायेगा’ एक दिन
    फिर ये इतना “अहंकार” किसके लिए !