Tags :Mohbbat Shayari

Mohbbat Shayari

Mohbbat Shayari

करूं जो बंद आंखें तो तेरे होने का एहसास है, तेरे इश्क में जी रही हूं मैं, तेरे रंग में रंगने की आस है। जो छुपाए ना छुपे यही वह जंग है, यह मोहब्बत है साहब इसके हजारो रंग है। मेरे पास बैठे रहो दिल को करार आएगा, जितना देखोगे तुम हमें उतना ही प्यार […]More Shayari