Hindi Suvichar -हिंदी सुविचार

 Hindi Suvichar -हिंदी सुविचार

Tum Pani Jaise Bano Jo Apna Rasta Khud Banata Hai
Jo Dusro Ka Bhi Rasta Rok Leta Hai
तुम पानी जैसे बनो जो अपना राश्ता खुद बनाता है
जो दूसरों का भी रिश्ता रोक लेता है

आँधियों ने बड़ा ऊँचा उठाया धूल को
पर दो बूँद बारिश ने फिर ज़मीन में मिला दिया
Aandhiyon Ne Bada Auncha Uthaya Dhool Ko
Par Do Boond Barish Ne Phir Zamin Mein Mila Diya

ज़िद्द एक ऐसी दीवार है जो तोड़े नही टूटती
लेकिन इस से रिश्ते जरूर टूट जातें हैं
Zid Ek Aisi Divaar Hai Jo Tode Nahi Tootti
Lekin Is Se Rishta Zaroor Toot Jate Hain

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *