Tags :Ignore Shayari

Ignore Shayari

Ignore Shayari in Hindi

तुम क्या समझोगी कितनी सिद्दत से मैंने मोहब्बत की, इग्नोर करके जिंदगी भर के लिए गम की सजा दी। दिल ही दिल में आज भी वो मुझे प्यार करता है, गैरों के कहने पर वो मुझे इग्नोर करता है। ना जाने क्यों वो अब हमें इतना इग्नोर करने लगे हैं, लगता हैं शायद वो अब […]More Shayari